Sunday, June 2, 2019

किसानों के लिए अब रेशम बेचना हुआ आसन

रेशम बनाने के लिए ई-रेशम पोर्टल पर पंजीयन कराएं किसान
रेशम उत्पादक किसान को रेशम बेचने के लिए पहले से जिले में पंजीयन केंद्र पर पंजीयन करना पड़ता था | जिससे किसानों का अधिक समय के साथ खर्च भी आता था | सरकार के पास भी सही डेटा नहीं उपलब्ध होता था | मध्य प्रदेश सरकार ने किसानों को रेशम बेचने के लिए आनलाईन पंजीयन की व्यवस्था की है |
रेशम बेचने के लिए पंजीयन कब से होगा ?
पंजीयन की प्रक्रिया शुरू कर दिया है , यह प्रक्रिया 15 जून तक चलेगी | इसके लिए राज्य सरकार ने 1 से 15 जून तक सभी जिला रेशम अधिकारी को प्रतिदिन दो गाँव का दौरा कर कृषकों को ई रेशम पोर्टल पर पंजीयन कराने की जानकारी के साथ प्रोत्साहित करेगा |
 किसान पंजीयन कैसे कराएँ
किसान ई – रेशम पोर्टल पर जाकर सामान्य जानकारी भरकर एक हितग्राही आईडी प्राप्त करें | यह आईडी सदा के लिए उनके पास रहेगा | आईडी प्राप्त करने पर किसान उस आईडी से पंजीयन के लिए फार्म भरे | 
 पंजीयन के लिए दिशा निर्देश इस तरह है
सामन्य जानकारी प्रविष्ट कर हितग्राही आईडी एवं सत्यापन कोड प्राप्त करें |
अपनी हितग्राही आईडी एवं सत्यापन कोड प्रविष्ट क्र शेष जानकारी अपडेट करें |
अपने बैंक खाते का विवरण प्रविष्ट करें |
अपनी भूमि से संबन्धित जानकारी प्रविष्ट करें |
फर्म मशीनरी की जानकारी प्रविष्ट करें
उक्त समस्त जानकारी प्रविष्ट कर आवेदन को लाक करें |
इस बात का विशेष ध्यान रखें की पंजीयन आधार कार्ड से ही होगा |


Previous Post
Next Post